कोरोना पर निबंध की रुपरेखा – essay on corona

आज हम आपको कोरोना पर निबंध ( essay on corona ) बताएंगे। जिसको आप पढ़ कर आसानी से कोरोना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं । या फिर अगर आपको कोरोना की वजह से कोरोना पर निबंध ( essay on corona ) लिखने का प्रोजेक्ट मिला है तो आप आसानी से यह निबंध पढ कर प्रोजेक्ट पूरा कर सकते हो।

कोविड -19 एक गंभीर बीमारी है यह चीन से निकलकर आज पुरे विश्व में फैली हुई। जो पूर्णतः एक चिंता का विषय है। यह विदेशी वायरस हवा के साथ ही फ़ैल रहा है। कोरोना ने अभी तक लाखो लोगो की जान लेने में सफल हुवा है।

कोरोना ने न हीं जाने ली है बल्कि बहुत से देशो की जीडीपी को हिला कर रख दिया है। आज तक के रिकॉर्ड में ऐसी बीमारी कभी नहीं देखी गई थी। और यह वायरस अभी भी अपनी पकड़ बना रहा है ।


कोविड 19 क्या है –

ये एक संक्रमित महामारी है जो किसी को भी हो सकती है। जो ज्यादातर बच्चो ओर पहले दिल से सम्बंधित बीमारी के मरीजों को हो रहा है । ये एक संक्रामित व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को हो सकती है। कोरोना बाल से 900 गुणा छोटा है।

कोरोना का पहला कैश दिसंबर महीने में चीन के वुहान शहर में मिला था। जो आज दुनिया की 5% आबादी को हो गया है। ओर लगभग 0.5% आबादी को इस दुनिया से भेजने में भी कामयाब भी हो गया है। कोरोना पर निबंध


कोविड 19 के लक्षण –

  • सर दर्द होना,
  • बुखार,
  • खासी, जुखाम होना
  • नाक बहना, बुखार न उतरना
  • एक सफ्ताह बाद सास लेने में तकलीफ,
  • कोविड 19 के लक्षण

अगर आपके इन में से एक भी लक्षण तो आपको खबराने की जरूत नहीं है। पहले आप कोरोना की जांच कराये ।


कोरोना पर निबंध essay on corona
कोरोना पर निबंध essay on corona
कोविड 19 से बचने के लिए सावधानिया –
  • याद आपको सास लेने में दीकत हो.
  • गरम पे का अधिक से अधिक सेवन करे।
  • मास्क का उपयोग करे.
  • सभी से 2 गज की दूर बनाये रखे।
  • भीड़ भाड़ वाली जगाहो पर जाने से बचे
  • फल या सब्जियों को धोकर ही उपयोग में ले।
  • हाथो को सेनिटाइज करते रहे।
  • छिखने या खास पर कपडे से अपना मुह ढके.
  • स्वच्छता का खास ध्यान रखे।
  • अधिक जानकारी पाने के लिए आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे।
  • अपने नजदीकी अस्पताल में पूर्णतया इलाज करवाए।

कोरोना का टीकाकरण –

हमारे वैज्ञानिक या डॉक्टर के योगदान से महामारी की वैक्सीन बन चुकी है। टीकाकरण का कार्य देश में शुरू हो चुका है। अपनी बारी आने पर टीकाकरण जरूर करवाए। झूटी अफवाहों पर ध्यान न दे। टीकाकरण के बाद भी आप मास्क का प्रयोग करे। हाथो को सेनिटाइज करते रहें।


कोविड-19 का शिक्षा पर प्रभाव निबंध

कोरोना की वजह से व्यापार, देश की जीडीपी, देश की आर्थिक स्थिति, आदि पर ही प्रभाव नहीं पड़ा बल्कि कोरोना की वजह से पुरे विश्व में स्टूडेंट की शिक्षा पर प्रभाव भी बुरा प्रभाव पड़ा है। स्टूडेंट पूरी तरह से कंफ्यूज है की वह क्या करे, कैसे करे । देश में आधे से ज्यादा स्टूडेंट को जनरल प्रमोशन मिल गया जिसका प्रणाम आगे जाकर अच्छा नहीं होगा ।

जिस स्टूडेंट ने प्रोफेसनल कोर्स किया है जिसका कोई किसी भी प्रकार की परीक्षा नहीं लग रही है। जिस कोर्स को करने के लिए लाखो रूपए खर्च होता है। जो पूरा फजूल हो गया है।जिसको मिडिल परिवार के लिए काफी कठिन होगा ।

उपसंहार

महामारी से लड़ने में योगदान दे । एक जिमेदार नागरिक की भूमिका निभाए। हम सब मिलकर covid-19 को आसानी से हरा सकते है। लेकिन उसके लिए हमको साथ मिल कर सरकार का साथ देना होगा। इस लिए हम सबको जरुरतमंदो को खाना या आर्थिक सहायता दे कर कोरोना से लड़ने में मदत करे ।


Related Post :-

मुझे उम्मीद है की आपको कोरोना पर निबंध ( essay on corona ) की रुपरेखा समझ में आई होगी। अगर आपको हमारा यह कोरोना पर निबंध ( essay on corona ) अच्छा लगा हो तो आप अपने दोस्तों को शेयर कर सकते है।

Share here
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

5 thoughts on “कोरोना पर निबंध की रुपरेखा – essay on corona”

Leave a Comment