हमारे जीवन में वृक्षों का महत्व पर निबंध

वृक्षों का महत्व पर निबंध :- हम इंसानो ने पेड़ों को काट कर जाने अनजाने में बहुत बड़ी गलती कर दी है। और यह गलती करते जा रहे है। अगर इस गलती को लगातार किया जायेगा तो इंसानो को आने वाले दिनों में बहुत ही विनाशकारी परिणाम देखने को मिलेगा।

जैसे इंसानो को जीने के लिए हवा की जरुरत है वैसे ही हवा के लिए पेड़ों को रखना जरुरी है। इंसानो को जीने के लिए पेड़ो का बहुत बड़ा योगदान है। क्योकि की पेड़ है। तो हवा है और हवा है तो हम । और हम हवा के बिना नहीं जी सकते है। इसी बात को ध्यान रखते हुवे । हमने आज हमारे जीवन में वृक्षों का महत्व पर निबंध लिखा है।


हमारे जीवन में वृक्षों का महत्व पर निबंध

  • (1) प्रस्तावना,
  • (2) वृक्षों की उपयोगिता,
  • (3) वृक्षों के लाभ,
  • (4) वन-विनाश,
  • (5) वन-महोत्सव,
  • (6) उपसंहार।

(1) प्रस्तावना-

वृक्षों का महत्व पर निबंधप्राचीनकाल से ही प्रकृति के साथ मनुष्य का घनिष्ट सम्बन्ध रहा है। प्रकृति ने सदैव ही मनुष्य-जीवन को संरक्षण प्रदान किया है। जब मनुष्य ने खेती करना नहीं सीखा था, तब मनुष्य वृक्षों के मीठे-मीठे फल खाकर जीवन बिताता था। वृक्ष उसके लिए सदैव उपयोगी रहे हैं। सूर्य की तीव्र गर्मी से बचने के लिए वृक्षों से मनुष्य शीतल छाया प्राप्त करता है। प्राचीनकाल में मनुष्य घने वृक्षों के नीचे झोपड़ी बनाकर रहता था।


वृक्षों का महत्व पर निबंध
वृक्षों का महत्व पर निबंध

(2) वृक्षों की उपयोगिता –

वृक्षों से प्राप्त लकड़ी मनुष्य के कई काम आती है। सभ्यता के विकास के प्रारम्भिक चरण में लकड़ी की उपयोगिता ज्यादा रही हा। लकड़ी भोजन तैयार करने का आज भी प्रमुख ईधन है। मकान, झोपड़ियों, नावों आदि का निर्माण लकड़ी से ही होता है। फर्नीचर निर्माण के लिए लकड़ी उपयोगी है।

वृक्षों के महत्व को समझते हुए ही हमारे पूर्वजों ने इनकी पूजा की। आम, बड़, पीपल में देव का निवास माना। इन वृक्षों को काटना महापाप का कारण बताया। इसके पीछे मूल भार वृक्षों की रक्षा का ही था। पृथ्वी को हरा-भरा सुंदर आकर्षक बनाने में वृक्षों का बहुत योगदान हैं। हरियाली के कारण ही बगीचों का महत्व है।


(3) वृक्षों का महत्व पर निबंध

  • वृक्षों से वर्षा- वृक्षों का सबसे बड़ा लाभ उनके कारण पृथ्वी की उपजाऊ शक्ति बढ़ाना है। वृक्ष मरुस्थलों के विस्तार को रोकते हैं। भारत कृषि प्रधान देश है। भारत की अर्थव्यवस्था का मूल आधार कृषि है। कृषि वर्षा पर निर्भर है तथा वर्षा वृक्षों पर निर्भर है। आकाश में चलती हुई मानसून हवाओं को वृक्ष अपनी ओर खींचेत हैं। वृक्ष वर्षा के जल को भूमि के नीचे तक अवशोषित करके ले जाते हैं।
  • वृक्ष स्वास्थ्य के लिए – वृक्षों से हमारे स्वास्थ्य को भी लाभ पहुँचता है। हम अपनी श्वसन क्रिया द्वारा कार्बन डाई-ऑक्साइड गैस बाहर छोड़ते हैं तथा ऑक्सीजन गैस ग्रहण करते हैं। वृक्ष हमारे द्वारा छोड़ी गई दूषित हवा को ले लेते हैं व स्वच्छ हवा हमें देते हैं। वृक्ष ऑक्सीजन गैस छोड़ते हैं। वनों की हरियाली आँखों के शीतलता प्रदान करती है। हरियाली नेत्रों की ज्योति बढ़ाती है।

4. वन-विनाश-

स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से भारत में वनों का बहुत विनाश हुआ है। भारी तादाद में वृक्ष बेरहमी से काटे गए भारत में वनों का प्रतिशत घटा है। वनों का गहरापन भी कम हुआ है। वन विनाश का दुष्परिणाम भी हम भुगत रहे हैं। आजकल वर्षा नामपत्र की होती है। वर्षा कम होने से पेयजल की समस्या उत्पन्न हो गई है। वायुमण्डल दोषपूर्ण हो गया है। ऑक्सीजन गैस की कमी हो रही है। वृक्षों की हरियाली अब हमें
देखने को नहीं मिल रही। वृक्षों के विनाश से भूमि उपजाऊपन घट रहा है। रेगिस्तान का विस्तार हो रहा है।


5. वन – महोत्सव –

वनों के महत्व को जानते हुए ही हमारे देश में प्रतिवर्ष। जुलाई को ‘वन महोत्सव’ मनाया जाता है। इसकेअनुसार देशभर में लाखों नए वृक्ष लगाए जाते हैं। लेकिन उनकी सुरक्षा की ओर पर्याप्त ध्यान ही नहीं दिया जाता। भारत में वन प्रदेश बढ़ाना आवश्यक है। आज देश में वन सम्पदा की उतनी ही आवश्यकता है, जितनी कि अन्य उत्पादकों की। अत: जनसाधारण एवं सरकार का कर्तव्य है कि वह पौधारोपण व वन संरक्षण की तरफ ध्यान दे। नदी-नालों, तालाबों आदि के किनारे वृक्ष लगाए जाएँ।


6. उपसंहार –

वृक्ष हमारे जीवन के लिए अत्यधिक उपयोगी है। उनके संरक्षण एवं उनकी वृद्धि में प्रत्येक भारतवासी को सहयोग देना चाहिए।


Related Post :-


मुझे उम्मीद है की आपको पेड़ो का महत्व समाज में आया होगा की हमरे लिए पेड़ लिटने जरुरी होता है। अगर आपको वृक्षों का महत्व पर निबंध अच्छा लगे तो शेयर जरूर करना । वृक्षों का महत्व पर निबंध पर अपनी राय लिखे।

Share here
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

3 thoughts on “हमारे जीवन में वृक्षों का महत्व पर निबंध”

Leave a Comment